Google+ Followers

Google+ Followers

शनिवार, 8 नवंबर 2014

आशिको की बस्ती












#
ये इश्क की गलियां हैं , आशिको की बस्ती है 
वक्त भी ठहर जाता है , यहाँ की रोंनके देख कर 

दिल धडकता है यहाँ , ख्वाईशें जवान होती है 
इबारते लिखी जाती है , मोहब्बत को देख कर 
ये इश्क की गलियां हैं ...
जिन्दगी की चाह में , यहाँ बर्बाद हुए कई लोग
लुट गई रियासते कई , यहां दिल की मुंडेर पर 

ये इश्क की गलियां हैं ...
झील सी आँखों से यहाँ , बचा कोई नही कभी
डूब के जाना कोई , अश्के समन्दर को देख कर 

ये इश्क की गलियां हैं ...
ये इश्क का मोहल्ला है , दीवानों की बस्ती है
जरा होश में आना यहाँ , दिल देख भाल कर 

ये इश्क की गलियां हैं ...
#सारस्वत

14072013