Google+ Followers

Google+ Followers

शुक्रवार, 4 मार्च 2016

मैं देख रहा हूँ ...

 #
मैं देख रहा हूँ छेद चौथेस्तंम्भ में गद्दारी वाले 
मैं देख रहा हूँ अप्लु पपलू नेता गद्दारी वाले 
मैं देख रहा हूँ  ... 
नमक देश का खाकर जो नमक हरामी करते हैं 
देश के टुकड़े टुकड़े करने को आज़ादी कहते हैं 
बगावत के नारे से ज़मानत के भाषण तक 
देशद्रोही को jnu मतवाला हीरो जतलाने वाले 
मैं देख रहा हूँ  ... 
भारत को जो गाली देता क्यों वही सुर्ख़ियों में होता है 
वन्देमातरम कहने पर क्यों कोरट भी रोक लगा देता है 
गद्दारों की टोली को भी देखो हिमामंडित कर देते हैं 
सबसे बड़े देश के दुश्मन ये ब्रेकिंग न्यूज़ बनाने वाले 
मैं देख रहा हूँ  ... 
#सारस्वत 
04032016 6