Google+ Followers

Google+ Followers

शुक्रवार, 24 अप्रैल 2015

भाषण चालू है ...


















#
आप के हाथ में झाड़ू है  … पब्लिक सारी आड़ू है
तू चढ़ जा बेटा सूली पे  … अभी कंजर भाषण चालू  है
आप का आम आदमी  ... माइक थामे हैं
 बैठ जाइये  ... बैठ जाइये  … भाषण चालू है

खेत में खड़ी फ़सल उजड़ गई है
आज किसान आत्महत्या करने पर मजबूर हो गया है
किसान का दर्द कोई सुनने वाला नहीं है
ख़बर रोज़ बनती हैं किसान गम के समुन्दर में डूब जाता है
वालेंटियर ही वालेंटियर हैं , महाकवि बता रहे  … भाषण अभी चालू है
बैठ जाइये  ... बैठ जाइये  … भाषण चालू है

जंतरमंतर धरना प्रदर्शन ऐसे ही चलता रहेगा
गजेन्द्र से कहदो तेरी शहादत का लाइव टैलिकाष्ट होता रहेगा
पल पल की ख़बरें देने में चैनल सारे मशगूल हुऐ
लम्बे छोटे ट्वीट के इशारे पल भर में दुनिया में मशहूर हुऐ
अजी , लटकने वाला लटक गया  … पर भाषण राशन चालू है
 बैठ जाइये  ... बैठ जाइये  … भाषण चालू है

भाषण वाषण रुक जाता तो कुछ भी हो सकता था जी
TRP कम हो जाती खर्चा मिडिया मांग सकता था जी
यहां से सारे मुंह लटकाके सीधे अफ़सोस को जायेंगे
फिर राजनीती में आप सभी को रोटियां सेक कर दिखलाएंगें
कहने को अभी बहुत है  … सुन लो कंजर का भाषण चालू है
 बैठ जाइये  ... बैठ जाइये  … भाषण चालू है
#सारस्वत
23042015