Google+ Followers

Google+ Followers

रविवार, 6 जुलाई 2014

रिश्तों के नाम पर





















#
जिंदगी की राह में मिलते यहाँ तरहा तरहा के लोग
रिश्तों के नाम पर खेलते यहाँ तरहा तरहा के लोग

*

मोहब्बत की राहों में आजकल बेहयाई का राज है
तोड़ता है दिल यहाँ पर वही जो शातिर अंदाज़ है
सजाते है दुकान'ऐ,दिल यहाँ तरहा तरहा के लोग
रिश्तों के नाम पर खेलते यहाँ  …
जो कहते थे जी नहीं पाएंगे एक पल तुम्हारे बिना
जो लड़ते थे बे-लाग सारी रात किसी बात के बिना
बतंगड वही सब बनाते हैं यहाँ तरहा तरहा के लोग
रिश्तों के नाम पर खेलते यहाँ  …
हमने देखा है यहाँ नीमबाज़ आखों को भी रोते हुये
नजरें बचाकर निकलते गुरबते'इश्क शर्मिंदा होते हुए
बड़े शौंक से दिल तोड़ते हैं यहाँ तरहा तरहा के लोग
रिश्तों के नाम पर खेलते यहाँ  …
#सारस्वत
15072013